Watch and Download full movie Salute (Punjabi) 2018 hdfriday

Salute (Punjabi)

Salute (Punjabi) 2018 Full Movie Download

About Movie

Salute is a Punjabi movie starring Nav Bajwa and Jaspinder Cheema in prominent roles. It is a drama directed by Harish Arora, with Jaidev Kumar as the musician, forming part of the crew. If you are a representative of the production house, please share the details of the film with [email protected]

People Review

Chander Shekher
Chander Shekher

Salute to Salute ! 2 days ago

Movie truly depicts the atrocities faced by war widows. Superb direction. Excellent acting by Jaspinder Cheema.nMelodious songs - nothing short of a Bollywood movie. Hope it's received well and appreciated by viewers.

Lakshay mehta
Lakshay mehta

excellent movie 4 days ago

its amazing fantabulous movie based on haryana punjab relation ; must watch once rather than thugs of hindustan & music is incredible m loving it

Shamsher
Shamsher

A real Salute to Salute 5 days ago

*Salute* मूवी उर्मिल कौशिक 'सखी' द्वारा रचित एक शानदार और जबरदस्त हिंदी नॉवेल *सेल्यूट* की कहानी पर आधारित है। कहानी इतनी जानदार और शानदार है कि समाज के हर तबके और हर उम्र के लोगो को फ़िल्म देखते ही पसन्द आएगी। निर्देशन व अभिनय फ़िल्म को चार चाँद लगा रहा है। फ़िल्म ने नारी सशक्तिकरण, फौजियों के परिवार की जिंदगी , नशे के खिलाफ जागरूकता और एक बेहद खूबसूरत लव स्टोरी को प्रभावशाली तरीके से व्यक्त किया है। अगर आप परिवार के साथ किसी मूवी को देखने की योजना बना रहे हैं तो ये मूवी आपकी सभी उम्मीदों पर खरा उतरेगी।

Ashwani Shandilya
Ashwani Shandilya

संस्कार, देशप्रेम व शहादत की मार्मिक कथा - सैल्यूट 6 days ago

सैल्यूट फिल्म सामाजिक, सांस्कृतिक, साम्प्रदायिक सद्भाव की स्थापना भूमि पर आधारित ऐसी फिल्म है जो मनोरंजन के साथ साथ देशप्रेम व संस्कारों के बीजवपन का कार्य भी करती है। निर्देशन से लेकर अभिनय तक, संवाद से लेकर पात्रों के चरित्र चित्रण तक और पटकथा की सुंदर बुनावट से लेकर राष्ट्रहिताय जनित उद्देश्य तक यह फिल्म ध्यान आकर्षित करती है। सामाजिक समस्याओं को दर्शाकर उनके निदान का मार्ग सुझाना, अश्लीलता का न होना, भारतीय लोक संस्कृति का पोषण करना व दर्शकों में संवेदना जागृत करना इस फिल्म की बड़ी ताकत है। सैनिक की मां व पत्नी की व्यथा-कथा के चित्रण को देखते हुए दर्शकों की आंखों का गीला होना इसे कथार्सिस के निकट ले जाता है। इसका सुखांत होना तृप्ति का अनुभव करवाता है।

Abhijot
Abhijot

Waste 6 days ago

3rd class movie . old story . wasted money . not a watchable movie. u better watch thugs of Hindustan. usse phir bhi Thora time pass ho jayega